Monday, January 30, 2023
HomeCSC VLE NEWSकिसानों को मिलेगी सस्ती खाद 2022

किसानों को मिलेगी सस्ती खाद 2022

Table of Contents

किसानों को मिलेगी अब सस्ती खाद 2022

Rs 51,875 crore subsidy को मिली मंजूरी 

रबी 2022 (01 October 2022 to 31 March 2023 तक) की फसल के लिए Central government किसानों को 51,875 करोड़ रूपये की सब्सिडी ‘crore subsidy’ दे रही है! 

इससे किसानों को सस्ती कीमतों पर फास्फेटिक औए पोटासिक खाद उपलब्ध होंगे!

इसके पहले पहली छमाही में भी Central government ने फास्फेटिक और पोटासिक खाद पर 60939.23 रूपये की सब्सिडी ‘subsidy’  दी थी!  

रबी की फसलो की बुवाई से पहले केंद्र सरकार  ‘central government’ ने किसानों को दिया है! बड़ा तोहफा!

सरकार ने फास्फेटिक और पोटासिक खाद पर 51,875 करोड़ रूपये की सब्सिडी दे रही है!

सरकार के इस फैसले के बाद किसानो को नाइट्रोजन(N)98.02,फास्फोरस (P) 66.93, पोटाश (K) 23.65, सल्फ़र (S) 6.12 रूपये प्रति kg किलोग्राम की सब्सिडी मिलेगी .

central government द्वारा वहन किया जा रहा 

रबी 2022 (01 October 2022 to 31 March 2023 तक) की फसल के लिए जारी इस सब्सिडी पर central government को 51,875 carode rupye खर्च करने होंगे! 

सभी फास्फेट और पोटास उर्वरक रियायती /किफायती कीमतों पर मिलने से किसानो को काफी सहायता होगी!

बता दे! कि उर्वरकों और कच्चे माल की अंतर्राष्ट्रीय कीमतों में हुए! मुनाफे को केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जा रहा है!

यह भी पढ़े –LPG Cylinder Price: प्राइस लेटेस्ट न्यूज 350 रूपये हुआ सस्ता

पहली छमाही में दी गयी थी 60939.23 धनराशि! 

  • सरकार किसानों को रियायती मूल्य पर फास्फेट और पोटास उर्वरक के लिए यूरिया! और 25 grade  उर्वरक उपलब्ध करा रही है!

  • फास्फेटिक और पोटास उर्वरको पर सब्सिडी देने की प्रक्रिया 01 april 2010 से जारी है!

  • इसके तहत उर्वरक कंपनियों को स्वीकृत दरों! के अनुसार सब्सिडी जारी की जयेगी!, ताकि वे किसानों को सस्ती कीमतों पर उर्वरक उपलब्ध करा सके!

  • बता दे! कि इस साल की पहली छमाही में भी! केंद्र सरकार ने फास्फेटिक और पोटासिक खाद  पर 60939.23 रूपये की सब्सिडी दी थी!

कई राज्यों में खाद की गिरावट

इन सब फैसले के बाद भी  देश के बहुत राज्यों में खाद की गिरावट आई है!

मध्य प्रदेश,उत्तर प्रदेश,राज्यस्थान साथ कई राज्यों से खाद को लेकर उससे जुडी खबरे सामने आती रहती हैं!

हालाँकि, सरकार के मुताबिक, वह खाद विवरण केन्द्रों पर समुचित मात्रा में उर्वरक की सुप्लाई कर रहे!

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

Abdul Shafe Anwarul Haque Shaikh on Tele-Law Login day Campaign (17th Sept to 2nd Oct)
Raman Singh Thakur on CSC Whatsapp Group Link
ajeet kumar on CSC Whatsapp Group Link